MSC Full Form in Hindi – जानिए एम एस सी क्या होता है

Msc Full Form In Hindi: वर्तमान समय में देश शिक्षा के क्षेत्र में काफी ज्यादा तरक्की कर रहा है। और युवाओं को अच्छी शिक्षा देने के लिए अलग-अलग तरह की सुविधाएं भी उपलब्ध करा रहा है। आज के समय में किसी भी मुकाम को हासिल करने के लिए शिक्षा बहुत ही महत्वपूर्ण बन गया है। वर्तमान समय में अलग-अलग तरह के कोर्सेस मौजूद है, जिनके माध्यम से लोगों को शिक्षा मिलती है, और वे तरक्की के मार्ग पर अग्रसर होते हैं। उन्हीं कोर्स में से एक Msc है।

CID Ki Full Form Kya Hai सीआईडी का फुल फॉर्म क्या होता है

आप में से बहुत से लोग MSC के बारे में तो जानते ही होंगे। परंतु आज भी ऐसे कुछ लोग हैं, जिन्हें इसके बारे में पता नहीं होता है। यदि आप भी उन्हीं लोगों में से एक हैं, तो हमारे इस आर्टिकल को पूरा जरूर पढ़े। क्योंकि आज हम आप सभी को अपने इस आर्टिकल के जरिए MSc का फुलफॉर्म क्या होता है?(MSC Full Form In Hindi) के बारे में बताएंगे और इससे जुड़ी हुई कुछ महत्वपूर्ण बातों के बारे में भी बताएंगे। तो आइए बिना समय गवाएं इस विषय के बारे में विस्तार पूर्वक जानते हैं।

MSc Full Form In Hindi – MSC Ka Full Form क्या होता है?

Msc का फुल फॉर्म Master Of Science होता है, जिसे हिंदी में ‘साइंस में स्नातकोत्तर’ कहां जाता है। यह एक पोस्ट ग्रैजुएट डिग्री होता है। जिसे अंडर ग्रैजुएट कोर्स को कंप्लीट करने के बाद किया जाता है। यह मुख्य रूप से 2 साल का कोर्स होता है। इस कोर्स को करने के बाद अलग-अलग क्षेत्र में काफी अच्छी अच्छी नौकरी हासिल किया जा सकता है।

MSc क्या होता है

Msc एक तरह का पोस्ट ग्रैजुएट कोर्स होता है, जिसे मास्टर डिग्री कोर्स भी कहा जाता है। MSC का पूरा नाम Master Of Science होता है, जिसे हिंदी में साइंस में स्नातकोत्तर कहा जाता है। यह बहुत की मशहूर कोर्स है। इस कोर्स का समय अवधि केवल 2 साल का ही होता है।

MSC मास्टर डिग्री कोर्स को करने के लिए सबसे पहले साइंस स्ट्रीम से BSC का 3 साल अंडर ग्रैजुएट डिग्री कोर्स कम्पलीट करने के बाद किया जाता है। बीएससी के अंडरग्रैजुएट कोर्स को कंप्लीट करने के बाद एमएससी कोर्स करने के लिए आपको Bsc के किसी भी एक सब्जेक्ट को चुनना होता है। आपने जिस भी सब्जेक्ट से बीएससी कोर्स को कंप्लीट किया होता है, आपको उन्हीं सब्जेक्ट में से किसी एक सब्जेक्ट का चुनाव करना होता है। और केवल उसी एक सब्जेक्ट पर एमएससी की मास्टर डिग्री हासिल करनी होती है।

MSc कोर्स अवधि क्या है

MSc कोर्स की अवधि केवल 2 साल की होती है, यह कोर्स 2 साल के अंदर हि कंप्लीट हो जाता है। Msc कोर्स का एग्जाम अलग-अलग यूनिवर्सिटी में अलग-अलग तरह से ली जाती हैं। किसी किसी यूनिवर्सिटी में यह कोर्स annually होता है, तो किसी किसी यूनिवर्सिटी में इस कोर्स को semester wise पढ़ाया जाता है जिसमें 2 साल के अंतर्गत 4 सेमेस्टर होते हैं।

MSc कोर्स की फीस

बाकी कोर्स के मुकाबले MSc कोर्स कि फीस थोड़ी कम होती है। इस course को किसी भी सरकारी या प्राइवेट कॉलेज से किया जा सकता है। परंतु प्राइवेट कॉलेज के मुकाबले सरकारी कॉलेज से इस कोर्स को करना थोड़ा सस्ता पड़ता है। यदि सरकारी कॉलेज में इस कोर्स के फीस की बात करें तो 1 साल में कम से कम 8 से 10 हजार रुपए लग सकते हैं। और यदि private कॉलेज में इस कोर्स के फीस की बात करें तो यह कम से कम 10 से 20 हजार रुपए के आसपास हो सकता है।

इसके अलावा सरकार द्वारा इस तरह के कोर्स को करने के लिए स्कॉलरशिप की भी सुविधा दी जाती है। इस तरह से स्कॉलरशिप के माध्यम से इस कोर्स की आधी फीस सरकार द्वारा मिल जाती है।

MSC कोर्स में एडमिशन का प्रोसेस

वैसे तो एमएससी कोर्स में एडमिशन बड़ी ही आसानी के साथ हो जाती है। आज के समय में बहुत सारे मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी मौजूद है, जहां पर एमएससी कोर्स के एडमिशन के लिए मुख्य रूप से 2 तरीके का ही इस्तेमाल किया जाता है। जो कि निम्नलिखित है-

  1. डायरेक्ट एडमिशन

आज के समय में ऐसे बहुत सारे कॉलेज मौजूद है, जहां पर डायरेक्ट एडमिशन लिया जाता है। बस एमएससी में एडमिशन के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराना होता है, उसके बाद कॉलेज में एडमिशन के प्रोसेस को पूरा करने पर एडमिशन सफलतापूर्वक हो जाता है।

  1. एंट्रेंस एग्जाम के माध्यम से एडमिशन

आज के समय में ऐसे कोई कोई कॉलेज है जहां पर एमएससी कोर्स में एडमिशन के लिए एंट्रेंस एग्जाम लिया जाता है और एंट्रेंस एग्जाम को क्लियर करने के बाद ही उस कॉलेज में एमएससी कोर्स में एडमिशन दिया जाता है

MSc कोर्स के फायदे

MSc एक बहुत ही अच्छा कोर्स होता है, इस कोर्स को करने के बाद साइंस सब्जेक्ट में मास्टर डिग्री हासिल होता है। और इस कोर्स के बहुत सारे फायदे भी देखने को मिलते हैं, जो कि निम्नलिखित हैं-

  1. एमएससी करने पर साइंस सब्जेक्ट से जुड़े हुए काफी अच्छी नॉलेज प्राप्त होती हैं।
  2. एमएससी किसी एक सब्जेक्ट में एक्सपोर्ट बनाने में मदद करता है।
  3. एमएससी करने के बाद काफी अच्छे-अच्छे जॉब करियर के मौके देखने को मिलते हैं।
  4. एमएससी करने के बाद आप किसी भी साइंस फील्ड या फिर रिसर्च फील्ड से जुड़ी हुई कंपनियों में काम कर सकते हैं।
  5. आप सिविल सर्विस या फिर अन्य किसी भी सरकारी नौकरी के लिए भी अप्लाई कर सकते हैं।
  6. एमएससी करने के बाद किसी भी फील्ड में जॉब करने पर काफी अच्छी सैलरी पैकेज की भी सुविधा मिलती है।
  7. बाकी कोर्स के मुकाबले इस कोर्स की फीस भी कम होती है।
  8. एमएससी कोर्स को करने के लिए काफी अच्छे-अच्छे मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी भी मौजूद है।

OMR full form in Hindi ओएमआर कैसे काम करता है

निष्कर्ष

आज हमने आप सभी को अपने इस आर्टिकल के जरिए MSc का फुलफॉर्म क्या होता है?(MSC Full Form In Hindi) के बारे में बताया है। आशा करते हैं कि आप सभी को हमारे इस आर्टिकल के जरिए MSc का फुलफॉर्म क्या होता है?(MSC Full Form In Hindi) विषय के बारे में काफी अच्छी जानकारी प्राप्त हुई होगी।

Sharing Is Caring:


Leave a Comment