Karnataka Ki Rajdhani Kahan Hai कर्नाटक की राजधानी कहाँ है

नमस्कार स्वागत है आपका अजनभा में । आज हम जानेंगे कि कर्नाटक की राजधानी (Karnataka Ki Rajdhani Kahan Hai) कहाँ है। तो चलिए शुरू करते हैं इस आर्टिकल को और जाने की कोशिश करते हैं कर्नाटक की राजधानी के बारे में। साथ में जानेंगे कर्नाटक की राजधानी से जुडी कुछ ऐसी जानकारियां जिसे हर हिंदुस्तानी को जरूर पता होनी चाहिए। तो चलिए शुरू करते हैं इस अध्याय को और आपको इस विषय पर पूरी जानकारी प्रदान करते हैं।

Karnataka Ki Rajdhani Kahan Hai

कर्नाटक की राजधानी बैंगलोर है इसे बेंगलुरु भी कहा जाता है। बेंगलुरु हिंदुस्तान का तीसरा सबसे बड़ा शहर है। बेंगलुरु को हिंदुस्तान के इलेक्ट्रॉनिक सिटी के नाम से भी पुकारा जाता है आपकी जानकारी के लिए हम बता दें कि कर्नाटक का गठन 1 नवंबर 1956 को हुआ था और इसी दिन बंगलुरु को कर्नाटक की राजधानी बनाया गया था।1 नवंबर 2014 को केंद्र सरकार की अनुमति से बंगलुरु का नाम बेंगलुरु रखा गया। आज भारत की तमाम सॉफ्टवेयर कंपनियां बंगलुरु में स्थित है। बैंगलोर में काफी बड़ी संख्या में इंजीनियरिंग कॉलेज होने की वजह से बंगलुरु विज्ञान के क्षेत्र में टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में बहुत ही अग्रणी रहा है।

Bengaluru Population and Literacy Rate

बेंगलुरु शहर का क्षेत्रफल 709 वर्ग किलोमीटर अर्थात 274 वर्ग मील के आसपास है। 2011 में की गई जनगणना के अनुसार बेंगलुरु शहर की जनसंख्या 84,43,675 है और यहां जनसंख्या का घनत्व 12000 प्रति वर्ग किलोमीटर है। यहां पर अगर साक्षरता दर की बात करें तो पुरुषों की साक्षरता 91.01% है और महिलाओं की साक्षरता 84.01% है। अगर लिंग अनुपात देखें तो यहां पर प्रति 1000 पुरुषों पर 916 महिलाएं हैं और अगर पूरे राज्य के साक्षरता की दर की बात करें तो यह 87.67% के आसपास है।

Geography and Season

आइए जानते हैं कर्नाटक की राजधानी बंगलुरु के जलवायु के बारे में। बेंगलुरु शहर की धरती मुख्य रूप से पठारी है। बेंगलुरु शहर मैसूर के पठार के बीच में 920 मीटर की ऊंचाई पर है। बेंगलुरु शहर को भारत का उद्यान नगर भी कह कर पुकारा जाता है। आमतौर पर बेंगलुरु में मौसम ठंडा रहता है अगर जलवायु की बात करें तो गर्मी के कुछ महीनों को छोड़कर यहां पर लगभग सर्दी पड़ती है और यहां का तापमान 20 से 35 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहता है।

यहां पर अगस्त से अक्टूबर के बीच में बरसात होती है और तापमान 19 डिग्री से 29 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहता है। सर्दी के मौसम में यहां का तापमान 12 डिग्री से 29 डिग्री सेल्सियस के मध्य बना रहता है और यह समय बेंगलुरु घूमने के लिए सबसे बेहतरीन समय होता है।

Religion, Education and Festivals

अब जान लेते हैं बेंगलुरु शहर मैं रहने वाले लोगों के बारे में। यहां की कुल जनसंख्या का 80.29% हिंदू, 12.97 प्रतिशत मुसलमान, 5.2 5% ईसाई, 0.14% सिक्ख, 0.06 प्रतिशत बौद्ध और बहुत ही कम संख्या में जैन और अन्य धर्मों के लोग हैं। इस शहर में बाहर से आकर बसने वाले लोगों की संख्या काफी ज्यादा है क्योंकि यहां पर विज्ञान इंजीनियरिंग और टेक्नोलॉजी से जुड़े जॉब के कई कई सारे अवसर मौजूद है।

इसलिए बड़ी संख्या में यहां लोग पढ़ाई करने के लिए आते हैं और बाद में इंजीनियरिंग की पढ़ाई पूरी होने के बाद बंगलुरु में ही नौकरी करके सेटल हो जाते हैं। यहां पर दीपावली बड़े धूमधाम से मनाई जाती है साथ ही साथ दशहरा भी अच्छे से मनाया जाता है। इसके अलावा यहां पर संक्रांति, गणेश चतुर्थी, क्रिसमस और ईद भी धूमधाम से मनाई जाती है।

अगर आप बेंगलुरु शहर घूमना चाहते हैं तो हम आपको बताते हैं कि कौन-कौन से वह मुख्य स्थान है जिससे आपको जरूर देखना चाहिए तो चलिए इस बारे में पूरी जानकारी हासिल करते हैं।

Basavanagudi Temple

डोड्डा बसवाना गुड़ी, बुल टेम्पल रोड, बसवनगुडी, दक्षिण बेंगलुरु के क्षेत्र में स्थित है, जो भारतीय राज्य कर्नाटक के सबसे बड़े शहर का हिस्सा है। हिंदू मंदिर बगले रॉक नामक पार्क के अंदर है। संदर्भित बैल एक पवित्र हिंदू देवता है, जिसे नंदी के नाम से जाना जाता है; नंदी शिव के घनिष्ठ भक्त और परिचारक हैं। डोड्डा बसवाना गुड़ी को दुनिया में नंदी का सबसे बड़ा मंदिर कहा जाता है। नंदी की पत्थर की पत्थर की मूर्ति लगातार कन्नड़ की स्थानीय भाषा में मक्खन, बेन्ने की नई परतों से ढकी हुई है। 

पास में ही हाथी के सिर वाले हिंदू देवता गणेश की मूर्ति है। हर साल कार्तिक मास के हिंदू महीने के आखिरी सोमवार और मंगलवार को मंदिर परिसर में एक मूंगफली मेला आयोजित किया जाता है और देवता को मूंगफली की पेशकश की जाती है। इस मेले को स्थानीय भाषा में 'कदलेकायी पारिश' के नाम से जाना जाता है। कदलेकायी परिषद के दौरान मूंगफली बेचने वालों और भक्तों की भीड़ उमड़ती है। बसवाना गुड़ी पर्यटकों के लिए एक नियमित यात्रा स्थल है और कर्नाटक राज्य पर्यटन विकास निगम सहित अधिकांश टूर ऑपरेटरों द्वारा कवर किया जाता है।

ISKCON Temple Bangalore

बेंगलुरु का इस्कॉन टेंपल सभी हिंदुओं और दूसरे धर्मों के लोगों के आस्था का मुख्य केंद्र है। यहां दूरदराज से लोग भगवान श्री कृष्ण के अद्भुत लीलाओं का दर्शन करने के लिए आते हैं और इस मंदिर की छटा देख कर मंत्रमुग्ध हो जाते हैं। इस्कॉन टेंपल अपने आने जाने वाले सभी भक्तों का पूरा ख्याल रखता है। यहां जरूरतमंद लोगों को मुफ्त भोजन भी कराया जाता है। इस्कॉन टेंपल सुबह 4:30 बजे खुलता है और यहां दिन की शुरुआत मंगल आरती से होती है।

इसके बाद इस मंदिर में दिनभर पूजा पाठ का सिलसिला चलते ही रहता है साथ ही साथ यहां पर हरे कृष्णा हरे रामा की धुन पर दिनभर कीर्तन होते रहते हैं। यह नजारा बहुत ही मंत्र मुक्त करने वाला होता है जब भी आपको बेंगलुरु जाने का मौका मिले तो आप इस्कॉन टेंपल जरूर जाएं।

Tipu Sultan’s Summer Palace

बंगलुरु में स्थित टीपू सुल्तान का किला मैसूर के राजा टीपू सुल्तान का निवास स्थान रहा है। इस किले का निर्माण 1791 में टीपू सुल्तान ने करवाया था और ये बेहद ही आकर्षक है तथा बरसों से पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र बना हुआ है। ये महल अल्बर्ट विक्टर रोड और कृष्णा राजेंद्र के जंक्शन पर स्थित है। टीपू सुल्तान का ये भव्य महल बैंगलोर किले में स्थित है जो दक्षिण-पश्चिम भारतीय राज्य कर्नाटक में पुराने बैंगलोर में है। ये किला इंडो-इस्लामिक वास्तुकला का एक उत्कृष्ट उदाहरण है। ये महल प्राचीन काल की सबसे पुराणी धरोहरों में से एक है।

Other Tourist Places in Bangalore

बेंगलुरु शहर में पर्यटन के अन्य स्थानों में गांधी भवन, वेंकटप्पा आर्ट गैलरी, कब्बन पार्क, लाल बाग, विधान सौधा, बेंगलुरु पैलेस , दरगाह हजरत तवाक्कल मस्तान, नेहरू प्लैनेटेरियम, विश्वेश्वरैया औद्योगिक एवं प्रौद्योगिकी संग्रहालय, गवी गंगादर श्रवरा मंदिर, चौदेया मेमोरियल हॉल, बन्नरघट्टा बायोलॉजिकल पार्क, मनोरंजन पार्क, इनोवेटिव फिल्म सिटी, snow City, Fun World इत्यादि प्रमुख हैं। अगर आपको बेंगलुरु जाने का मौका मिले तो इन पर्यटन स्थलों पर जाना ना bhoolein.

हमें उम्मीद है की आपको हमारा ये लेख पसंद आया होगा। इसे और लोगो से साँझा करें और इस आर्टिकल को सोशल मीडिया में शेयर ज़रूर करें ताकि हर हिंदुस्तानी बेंगलुरु शहर से वाकिफ हो सके।

Related Articles

Bihar Ki Rajdhani Kahan Hai

Maharashtra Ki Rajdhani Kya Hai

Leave a Comment

Newsletter Signupनयी जानकारियों के लिए हमें सब्सक्राइब करें

नयी जानकारियों के लिए हमें सब्सक्राइब करें