आईएएस बनने के लिए सब्जेक्ट और भाषाएँ IAS Banne Ke Liye Subject

IAS Banne Ke Liye Subject

हेलो दोस्तों , क्या आपका भी सपना है आईएएस बनने का? अगर हाँ तो फिर आप सही जगह पर आये है। इस लेख में हम आपको बताएँगे की आईएएस बनने के सब्जेक्ट का चुनाव कैसे करें। IAS Banne Ke Liye Subject का चुनाव करने से पहले ये जान लेते हैं की आईएएस क्या है।आईएएस का फुल Indian Administrative Services (भारतीय प्रशासनिक सेवा) है।

इसकी परीक्षा संघ लोक सेवा आयोग के तहत कराई जाती है जो एक राष्ट्रीय स्तर की परीक्षा है। कहा जाता है की ये देश की सबसे कठिन परीक्षाओ में सबसे ऊपर आता है वैसे अगर ठान लिया जाये तो इस संसार में कुछ भी कठिन नहीं है तो चलिए हम आपको बताते है की आईएएस में कौन कौन से subject होते है। यहाँ नीचे आईएएस सब्जेक्ट की लिस्ट हम आपको दे दे रहे है

IAS Banne Ke Liye Subject List

  1. वनस्पति विज्ञान
  2. कृषि
  3. प्राणि विज्ञान
  4. सांख्यिकी
  5. नागरिक सास्त्र
  6. लोक प्रशासन
  7. मनोविज्ञान
  8. राजनीति विज्ञान और अंतर्राष्ट्रीय संबंध
  9. भौतिक विज्ञान
  10. चिकित्सा विज्ञान
  11. दर्शन शास्त्र
  12. मैकेनिकल इंजीनियरिंग
  13. गणित
  14. प्रबंधन
  15. कानून
  16. इतिहास
  17. भूगर्भशास्त्र
  18. भूगोल
  19. विद्युत अभियन्त्रण
  20. अर्थशास्त्र
  21. वाणिज्य और लेखा
  22. असैनिक अभियंत्रण
  23. रसायन विज्ञान
  24. मनुष्य जाति का विज्ञान
  25. पशुपालन और पशु चिकित्सा विज्ञान

आप आईएएस की परीक्षा २३ भाषाओ में दे सकते है जो निम्नलिखित है

  1. हिंदी
  2. इंग्लिश
  3. असमिया
  4. बंगाली
  5. बोडो
  6. डोगरी
  7. गुजराती
  8. कन्नड़
  9. कश्मीरी
  10. मैथिली
  11. मलयालम
  12. मणिपुरी
  13. मराठी
  14. नेपाली
  15. उड़िया
  16. पंजाबी
  17. संस्कृत
  18. संथाली
  19. सिंधी
  20. तमिल
  21. तेलुगु
  22. उर्दू

आईएएस फुल फॉर्म

आईएएस एक उच्च कोटि का पोस्ट होता ह जो संघ लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित किया जाता है आईएएस का फुल्ल फॉर्म होता है , संघ लोक सेवा आयोग (Indian Administrative Service). IAS अधिकारी जिला प्रशासन, राज्य सचिवालय और केंद्रीय सचिवालय का एक हिस्सा होते हैं। भारत में सबसे ऊँचा पद जो होता है वो आईएएस अधिकारी का ही होता है इसलिए भारत में सबका सपना होता है की वो आईएएस अधिकारी बने।

How to become an IAS officer

UPSC सिविल सेवा परीक्षाओं के लिए पाठ्यक्रम ऊपर दिए गए है जिसमे – कार्यक्रम, पात्रता मानदंड, नौकरियों के प्रकार, परीक्षा पैटर्न, वेतन और अन्य चीज़े आती है। Indian Admisnistrative Services या IAS एक प्रतिष्ठित काम है। देश को चलाने में मदद करने वाले सेवाओं में एक स्थान पाने के लिए हर साल लाखों उम्मीदवार इस परीक्षा की तैयारी करते हैं। IAS के अलावा, केंद्र सरकार में भारतीय पुलिस सेवा, भारतीय राजस्व सेवा और अन्य समूह A और B पद भी हैं, जिन्हें सामूहिक रूप से UPSC सिविल सेवा कहा जाता है।

IAS अधिकारी बनने के लिए, आपको UPSC द्वारा आयोजित सिविल सेवा परीक्षा को पास करना होगा। आईएएस परीक्षा में तीन चरणो में होते हैं, पहला पेपर क्लियर करने पर आपको दूसरा चरण में जाना होता है फिर दूसरा क्लेअर करने पर आपका लास्ट चरण में इंटरव्यू होता है. फिर उसके बात मेरिट के आधार पर सिलेक्शन होता है

यदि आप भी सिविल सेवक बनकर अपने देश की सेवा करने की आकांक्षा रखते हैं, तो ये पोस्ट आपके लिए ही है कि कैसे IAS अधिकारी बनें/ IAS बनने के तरीके को समझने के लिए, आपको UPSC सिविल सेवा परीक्षा के बारे में समझने की आवश्यकता है। संघ लोक सेवा आयोग पर यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा आयोजित करने के लिए जिम्मेदार निकाय है। केंद्रीय निकाय केंद्र सरकार में ग्रुप services ए ’सेवाओं के लिए व्यक्तियों का चयन करने के लिए और दिल्ली और पुदुचेरी सहित केंद्र शासित प्रदेशों में ग्रुप बी सेवाओं में हर साल परीक्षा आयोजित करता है। यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा में भर्ती के लिए उपयोग किया जाता है।

ये भी पढ़ें : IPS Banne Ke Liye Konsa Subject Lena Chahiye

UPSC सिविल सेवा परीक्षा, पात्रता, आयु सीमा ( IAS Qualification )

आईएएस की परीक्षा में बैठने के लिए आपको भारत का नागरिक होना चाहिए और किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक की डिग्री होनी चाहिए / इसके लिए २१ से ३२ वर्ष की आयु वाले उम्मीदवारों को ही प्रवेश मिलता है / साथ ही आरक्षित श्रेणियों के लिए सरकारी नियमों के अनुसार ऊपरी आयु सीमा में छूट दी जाती है /सामान्य श्रेणी के लिए अधिकतम आयु सीमा ३२ साल है ,अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए अधिकतम आयु सीमा ३५ साल है और अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति के लिए अधिकतम आयु सीमा ३७ साल है /न्यूनतम और अधिकतम आयु सीमा 1 अगस्त के अनुसार निर्धारित की जाती है ।

हम आपको ये भी बता देते है की कौन से कैंडिडेट आईएएस परीक्षा कितनी बार दे सकते है. अगर आप सामान्य कैटेगरी से है तो आप ३२ वर्ष की आयु तक ६ बार ही पेपर दे सकते है अगर आप OBC कैटेगरी के है तो ३५ वर्ष की आयु तक ९ बार और अगर एससी/एसटी कटेगरी के है तो ३७ साल की उम्र तक एग्जाम दे सकते है

आइये अब हम आपको बताएँगे की आईएएस और आईपीएस अधिकारियो में क्या अंतर होता है

  • वेतन और अधिकार के मामले में एक IPS अधिकारी से IAS अधिकारी का पद बहुत बेहतर है। IAS अधिकारी का वेतन IPS अधिकारी की तुलना में अपेक्षाकृत अधिक है। इसके अलावा, एक क्षेत्र में केवल एक IAS अधिकारी होता है जबकि एक क्षेत्र में IPS अधिकारी की संख्या आवश्यकता के अनुसार होती है।
  • IAS कैडर कंट्रोलिंग अथॉरिटी कार्मिक और प्रशिक्षण विभाग, कार्मिक, लोक शिकायत और पेंशन मंत्रालय है। दूसरी ओर, गृह मंत्रालय, भारत सरकार IPS कैडर को नियंत्रित करता है।
  • IAS अधिकारियों का प्रशिक्षण सत्र लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय प्रशासन अकादमी, मसूरी, उत्तराखंड में आयोजित किया जाता है और IPS अधिकारियों को सरदार वल्लभभाई पटेल राष्ट्रीय पुलिस अकादमी, हैदराबाद, तेलंगाना में प्रशिक्षित किया जाता है।
  • IAS बनना सिविल सेवा परीक्षा के लिए उपस्थित होने वाले अधिकांश उम्मीदवारों की प्राथमिक पसंद है। सिविल सेवा परीक्षा में केवल टॉप-रैंक धारक को IAS के रूप में नियुक्त किया जाता है, जबकि IPS उम्मीदवार को दिया जाने वाला अगला सबसे अच्छा विकल्प है।
  • IAS एक शीर्ष रैंकिंग सिविल सेवा की नौकरी है जो शीर्ष रैंक के योग्य उम्मीदवारों की पेशकश करता है और जिम्मेदारियों में एक क्षेत्र / जिले / विभाग का प्रशासन शामिल होता है। उन्हें अपने संबंधित क्षेत्रों के विकास के लिए प्रस्ताव बनाने की आवश्यकता होती है और सभी नीतियों को लागू करने के साथ-साथ महत्वपूर्ण निर्णय लेने के लिए कार्यकारी अधिकार दिए जाते हैं। जबकि, समाज में व्यवस्था बनाए रखने के लिए IPS उम्मीदवारों की आवश्यकता होती है। IAS अधिकारी लोक प्रशासन, नीति निर्माण और कार्यान्वयन में सहायता करते हैं। दूसरी तरफ, IPS अधिकारी को अपराध की जांच करनी होती है और उस क्षेत्र में व्यवस्था बनाए रखना होता है जहां वे तैनात होते हैं।

भारतीय प्रशासन सेवा (IAS) और भारतीय पुलिस सेवा (IPS) भारत में सबसे चुनौतीपूर्ण और प्रतिष्ठित नौकरियों में से एक हैं जो न केवल आपको अधिकार और पद दिलाती हैं बल्कि आपको समाज के प्रति जिम्मेदार बनाती हैं।

सम्बंधित लेख : जानिए IPS Banne Ke Liye Konsa Subject Lena Chahiye आईपीएस बनने के लिए कौन सा सब्जेक्ट लेना चाहिए।

इस पोस्ट में अपने सीखा की IAS Banne Ke Liye Subject का चुनाव कैसे करें। अगर आपको हमारी ये पोस्ट अच्छी लगी हो तो आप इसे आपके फेसबुक और दूसरे सोशल साइट पर शेयर करें ताकि और लोग भी इसके बारे में जान सकें। इस लेख को पूरा पढ़ने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद्। आप play store से ajanabha app भी डाउनलोड कर सकते हैं ताकि आप नियमित रूप से नयी नयी जानकारियां पढ़ सकें।

नयी जानकारियों के लिए आप हमारा यूट्यूब चैनल और टेलीग्राम चैनल भी ज्वाइन कर सकते हैं जिनका लिंक हमने नीचे दिया हुआ है।
SUBSCRIBE AJANABHA YOUTUBE CHANNEL
JOIN AJANABHA TELEGRAM GROUP

अनिकेत सिन्हा एक गायक, संगीतकार, ब्लॉगर और बिजनेसमैन हैं उन्हें ऑनलाइन जॉब, डिजिटल मार्केटिंग, संगीत, टेक्नोलॉजी और सामान्य ज्ञान जैसे विषयों पर लिखना पसंद है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here