Home Finance भारत में लोकप्रिय भुगतान के तरीक़े Payment Method in India | Cashless...

भारत में लोकप्रिय भुगतान के तरीक़े Payment Method in India | Cashless India

14
0
Payment Method in India

अब वे दिन चले गए हैं, जब पेमेंट करने के लिए आपको केवल कैश पर निर्भर रहना पड़ता था। टेक्नोलॉजी के विकास तथा भारत सरकार द्वारा चलाये गए प्रमुख अभियान ‘डिज़िटल इंडिया’ जिसका प्रमुख उद्देश्य भारत की अर्थव्यवस्था को डिज़िटल रूप से सशक्त बनाना, जो फेसलेस, पेपरलेस और कैशलेस पर आधारित है तथा ई-कॉमर्स व्यवसाय को बढ़ावा देना है। जिसके परिणामस्वरूप कैशलेश लेन-देन की शुरुआत हुई। कैशलेश लेनदेन को बढ़ावा देने और प्रोत्साहित करने के लिए भारत सरकार कई उपाय कर रही है। इस प्रयास के फलस्वरूप विभिन्न प्रकार की पेमेंट विधियों की शुरुआत के बाद नकद लेनदेन पर हमारी निर्भरता बहुत कम हो गई है।

इनमें डेबिट / क्रेडिट कार्ड, इंटरनेट बैंकिंग, मोबाइल वॉलेट, डिजिटल भुगतान ऐप, यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस (यूपीआई) सेवा, अनस्ट्रक्चर्ड सप्लीमेंट्री सर्विस डेटा (यूएसएसडी), बैंक प्रीपेड कार्ड, मोबाइल बैंकिंग आदि का उपयोग शामिल है। ये सभी विधियाँ न केवल उपयोग में आसान और सुविधाजनक हैं, बल्कि बहुत ही सुरक्षित और ग्राहकों को उनकी सुविधा के अनुसार पेमेंट विधि से कहीं से भी और कभी भी भुगतान करने की सुविधा प्रदान करते हैं।

भारत में लोगों द्वारा सबसे ज्यादा अपनाई जाने वाली पेमेंट विधियाँ निम्नलिखित हैः-

1. डेबिट / क्रेडिट कार्ड

डेबिट/क्रेडिट बैंकिंग कार्ड भारत में सबसे व्यापक रूप से उपयोग की जाने वाली पेमेंट विधियों में से एक हैं और जिनका उपयोग ग्राहकों द्वारा ऑनलाइन और कैशलेस ऑफलाइन पेमेंट के लिए किया जाता है। वीज़ा, रूपे और मास्टरकार्ड कुछ सबसे लोकप्रिय और प्रसिद्ध कार्ड भुगतान प्रणालियाँ हैं, जो सभी प्रकार की ऑनलाइन पेमेंट को सरल, आसान और सुरक्षित बनाते हैं। बैंकिंग कार्ड द्वारा ऑनलाइन खरीदारी, पेमेंट अथवा लेनदेन आदि के लिए डिजिटल भुगतान ऐप या पीओएस मशीन का उपयोग किया जाता है। कार्ड से खरीदारी अथवा पेमेंट करने पर ग्राहकों को अनेकों ऑफर प्रदान किए जाते हैं, जिसकी वजह से लोगों के बीच यह पेमेंट का एक लोकप्रिय तरीका बन गया है।

2. पेटीएम 

पेटीएम भारत का सबसे बड़ा मोबाइल पेमेंट और ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म में से एक है | यह तीन पत्ती रियल कैश के लिए सबसे अधिक इस्तेमाल की जाने वाली भुगतान विधि भी है, जो कि पेटीएम ऐप या पेटीएम वेबसाइट के माध्यम से दो तरीकों से कैशलेस लेनदेन की अनुमति देता है। पहला पेटीएम वॉलेट जो कि एक सुरक्षित डिजिटल/मोबाइल वॉलेट है जिसका उपयोग आप किसी भी तरह के पेमेंट के लिए कर सकते हैं। आप UPI, इंटरनेट बैंकिंग, या क्रेडिट/डेबिट कार्ड के माध्यम से पेटीएम वॉलेट में पैसे जोड़ सकते हैं। दूसरा यूपीआई का उपयोग करके सीधे अपने बैंक खाते से भुगतान करने की अनुमति भी देता है। आप इसके माध्यम से किसी भी तरह के पेमेंट को आसानी से कर सकते हैं, बस पेटीएम पर रजिस्टर सभी उपयोगकर्ताओं को UPI मनी ट्रांसफर करने के लिए एक बैंक खाते को पेटीएम ऐप से लिंक करना पड़ता है। आज के दिनों में भारत में अधिकतर बैंक और भीम यूपीआई ऐप आसान, तेज़ और इंस्टेंट पैसा ट्रांसफर करने के लिए पेटीएम भीम यूपीआई आईडी स्वीकार करते हैं।

3. गूगलपे 

Google Pay आपके Google अकाउंट से जुड़ा एक डिजिटल भुगतान ऐप है। इस एप्लिकेशन का उपयोग उपयोगकर्ता अपने एंड्रॉइड डिवाइस जैसे मोबाइल फोन, स्मार्टवॉच और टैबलेट आदि के माध्यम से सुरक्षित रूप से किसी भी तरह के पेमेंट करने तथा किसी को पैसे भेजने और प्राप्त करने के लिए कर सकते हैं। आप सीधे अपने बैंक खाते से किसी को भी शून्य शुल्क के साथ पैसे भेज या प्राप्त कर सकते हैं। यह यूपीआई का उपयोग कर ऑनलाइन, इन-ऐप, इन-स्टोर और व्यक्तिगत रूप से कैशलेस लेनदेन को सक्षम बनाता है। गूगलपे उन सभी बैंकों के साथ काम करता है जो भीम यूपीआई का समर्थन करते हैं। Google Pay द्वारा किसी भी तरह के ट्रांजेक्शन पर यूजर्स को विभिन्न कैशबैक और स्क्रैच कार्ड, छूट आदि सहित अनेकों रिवार्ड और ऑफर प्राप्त होते हैं। अपने दोस्तों अथवा परिवार के सदस्यों को रेफर करने से भी कैशबैक प्राप्त कर सकते हैं।

4. मोबिक्विक

मोबिक्विक एक भारतीय ऑनलाइन पेमेंट कंपनी है जो उपयोगकर्ताओं को पेमेंट प्राप्त करने और पैसे ट्रांसफर करने की अनुमति देता है। यह भारत का सबसे बड़ा डिजिटल मोबाइल वॉलेट में से एक है, जिसका उपयोग आप मोबाइल रिचार्ज, बिजली, इंटरनेट, डीटीएच और ऑनलाइन शॉपिंग जैसे सभी उपयोगी बिलों के भुगतान के लिए कर सकते हैं, बस उपभोक्ताओं के पास वॉलेट में पैसा होना चाहिए। उपयोगकर्ता वॉलेट में पैसे जोड़ने के लिए डेबिट या क्रेडिट कार्ड का उपयोग कर सकते हैं। इसके वन टाइम पासवर्ड (ओटीपी) की सुविधा इसे किसी भी तरह के पेमेंट अथवा ट्रांजेक्शन का एक सुरक्षित तरीका बनाता है।

5. फोनपे 

फोनपे भारत का पहला यूपीआई (UPI)-आधारित पेमेंट ऐप है, जिसका उपयोग आप यूटिलिटी बिल, मोबाइल और डीटीएच रिचार्ज, पैसे भेजने और प्राप्त करने से लेकर अपने क्रेडिट कार्ड बिल और बीमा प्रीमियम का भुगतान करने तक किसी भी बिल के पेमेंट में कर सकते हैं। बस आपको अपने बैंक खाते के डिटेल्स को फीड करने और एक UPI आईडी बनाने की जरूरत है। आप लेनदेन करने के लिए अपने बैंक खाते को अपने PhonePe खाते से लिंक कर सकते हैं। आप PhonePe वॉलेट, डेबिट कार्ड और क्रेडिट कार्ड से भी भुगतान कर सकते हैं। यहाँ वॉलेट को रिचार्ज करने की कोई आवश्यकता नहीं पड़ती है, क्योंकि पैसा सीधे उपयोगकर्ता के बैंक खाते से डेबिट हो जाता है। यह बिना किसी परेशानी के डेली पेमेंट और फंड ट्रांसफर के लिए एक बहुत ही सुरक्षित, तेज़ और आदर्श तरीका है। आप अपने अन्य मौजूदा ई-वॉलेट जैसे कि जियो मनी, एयरटेल मनी और अन्य को फोनपे ऐप से लिंक कर सकते हैं ताकि इन वॉलेट्स के बीच बिना किसी परेशानी के मनी ट्रांसफर किया जा सके। फोनपे से पेमेंट या किसी भी तरह के ट्रांजेक्शन करने पर आपको अद्भुत और अनेकों कैशबैक प्राप्त होता है, जिसे आप अपने अगले उपयोगी बिल, रिचार्ज या खरीदारी के पेमेंट के लिए उपयोग कर सकते हैं।

6. अमेज़ॅन पे 

अमेज़ॅन पे अमेज़ॅन ग्राहकों को दी जाने वाली एक डिजिटल भुगतान सेवा है, जो ग्राहकों को उनके अमेज़ॅन खाते से पहले से जुड़े भुगतान विधियों और शिपिंग जानकारी का उपयोग करके तीसरे पक्ष की वेबसाइटों पर खरीदारी करने की अनुमति देती है। उपयोगकर्ता ऑनलाइन शॉपिंग के साथ-साथ सभी तरह के उपयोगी बिलों का पेमेंट, किसी को पैसे ट्रांसफर आदि बहुत कुछ कर सकते हैं। यह आपके लेन-देन को आसान और सुरक्षित रखता है और आपको अपने अमेज़ॅन खाते से सब कुछ ट्रैक करने की सुविधा भी प्रदान करता है। आप अमेज़ॅन ऐप के माध्यम से रजिस्टर करके UPI-आधारित लेनदेन के लिए Amazon Pay UPI भी सेट कर सकते हैं। Amazon UPI सेवाएं एक्सिस बैंक द्वारा प्रदान की जाती हैं। यह मोबाइल उपकरणों पर अच्छी तरह से काम करता है और एक सहज अनुभव प्रदान करता है। 

निष्कर्ष 

भारत को कैश-लेस समाज में बदलने की दिशा में, आज डिजिटल भुगतान के विभिन्न तरीके उपलब्ध हैं, जो कैशलेस लेनदेन को बढ़ावा देते हैं। भारत में विमुद्रीकरण के बाद, लोगों ने धीरे-धीरे डिजिटल भुगतान को अपनाना शुरू कर दिया और आजकल लोग एक से अधिक ऑनलाइन भुगतान पद्धति का उपयोग भी कर रहे हैं, या यह भी कहना गलत नहीं होगा कि धीरे-धीरे इसी पर निर्भर होते जा रहे हैं। इसका सबसे बड़ा कारण यह भी है कि ये सभी तरीके, पारंपरिक तरीकों से काफी तेज और सुविधाजनक है तथा लेन-देन के चक्र को तेज और आसान करते हैं।

Previous articleCheap online shopping sites in India
Next articleभारत में लोकप्रिय कार्ड गेम ऐप्स
अनिकेत सिन्हा एक गायक, संगीतकार, ब्लॉगर और बिजनेसमैन हैं उन्हें ऑनलाइन जॉब, डिजिटल मार्केटिंग, संगीत, टेक्नोलॉजी और सामान्य ज्ञान जैसे विषयों पर लिखना पसंद है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here