Hotspot Kya Hai और Hotspot कितने प्रकार के होते है ?

जहाँ Internet की बात होगी वहां HotSpot का जिक्र आ ही जायेगा | क्यूंकि हर दिन मिलियन लोग पब्लिक hotspot से connect करके इन्टरनेट data का इस्तेमाल करते है और आज hotspot पब्लिक infrastructure का और हमारे इन्टरनेट experience का महत्वपूर्ण हिस्सा बन चूका है|

आप भी तो आए दिन hotspot के जरिये अपने दोस्तों और फैमली मेम्बर के साथ data share करते रहते है | लेकिन आगर आप ऐसा नही करते है या फिर नहीं जानते है की Hotspot क्या है और यह काम कैसे करता है | क्या इसके टाइप्स भी होते है तो hotspot को लेकर आपके मन में भी ये सवाल होंगे जिनके जवाब पाने के लिए आप आर्टिकल को पूरा जरुर पढ़ें | तो चलिए देर न करते हुए जानते है hotspot क्या है ?

Hotspot क्या है ?

Hotspot एक ऐसी spacific location होती है जो Wireless Local Area Network यानि की WLAN के जरिये इन्टरनेट Experience provide कराती है | और इसके जरिये यूजर अपने स्मार्टफोन और Tablate को इन्टरनेट से बिना वायर के connect कर सकते है |

यानि hotspot wifi का यूज़ करके wireless devices को इन्टरनेट provide कराता है | hotspot प्राइवेट location और पब्लिक location में भी हो सकते है जैसे Airports, Coffee Shops, Hotels, Hospitals, Libraries, Super Markets, आदि जगहों पर हो सकती है |

कई बार किन्ही लोगों को hotspot और wifi के बीच अंतर समझ में ही नहीं आता है | आज इसे भी हम जान ही लेते है |

Wi-Fi क्या है ?

wifi वो technique है जो आपके स्मार्टफोन या कंप्यूटर को wireless connection के जरिये इन्टरनेट Access allow करती है | ये आप की enabled device और WAP यानि की Wireless Access Point के बीच data send और recive करने के लिए रेडियो signal का यूज़ करती है |

wifi एक wireless Communication Technology है जो LAN यानि Local Area Network के लिए यूज़ होती है | जबकि hotspot wifi का यूज़ करके wireless devices को इन्टरनेट provide करता है |

Mobile Hotspot क्या है ?

Mobile Hotspot को Portable Hotspot भी कहा जाता है | और आप अपने लैपटॉप को इन्टरनेट से connect करने के लिए अपने स्मार्टफोन के data connection का यूज़ कनरे के लिए एक मोबाइल hotspot बना सकते है | इस process को Tethering कहा जाता है |

ये devices सेलुलर नेटवर्क जैसे की 4G या 5G से connect होती है | और जो devices सेलुलर नेटवर्क से connect नही हो सकती है वो wifi का यूज़ करके मोबाइल hotspot से connect हो सकती है | मोबाइल hotspot अप्पके devices और सेलुलर नेटवर्क के बीच ब्रिज का काम करते है |

Types of Hotspot

Hotspot के दो टाइप्स होते है जोकि निम्नलिखित है

  1. Free Wifi Hotspots
  2. Commercial Hotspots

Free Wifi Hotspots :- सभी यूजर को एक ही नेटवर्क से इन्टरनेट यूज़ करने की permission देता है |

Commercial Hotspots :- इसमें wireless converge के लिए फीस देनी होती है | और जब commercial hotspot से connect किया जाता है तो यूजर को लॉग इन इनफार्मेशन या पेमेंट डिटेल्स की riquest करने वाली वेबसाइट पर redirect कर दिया जाता है |

लेकिन आप ऐसा hotspot चाहते है जो हर location पर availabe हो तो इसके लिए आप पोर्टेबल wifi hotspot का यूज़ कर सकते है | इस device के अन्दर मोबाइल राऊटर होता है और device में कोई additional software download किये बिना एक साथ कई device connect करने के इसका यूज़ किया जाता है |

क्या Hotspot Secure होते है ?

इस प्रशन का जवाब हाँ भी हो सकता है और न भी हो सकता है | क्यूंकि hotspot के security को insure किये बिना इसका यूज़ किया जाये तो तो आपकी work लाइफ of personal लाइफ इसकी चंगुल में फंस सकती है | आप की data चोरी भी हो सकती है |

एक Unsecure hotspot wifi connection के जरिये हैकर को बड़ी आसानी होतो है किसी भी device को हैक करने के लिए | इसी लिए इससे बचना बहुत जरुरी हो जाता है | तभी तो पब्लिक hotspot को यूज़ करते समय अपने लैपटॉप और स्मार्टफोन केवल reputable प्रोवाइडर से ही connect करें | और पब्लिक wifi का इस्तेमाल करते समय इन सारी बातों का ध्यान जरुर से रखना है |

  • पब्लिक नेटवर्क में इंटर होने से पहले अपना Bluetooth को जरुर से बंद कर दीजिये |
  • अपने device पर फाइल sharing system को भी switch off कर दीजिये |
  • device पर fire wall enable करिए |
  • अपने device में Antimalware Software जिसमे Anti Sniffing Protection भी हो जरुर रखिये |
  • Wifi Auto connect setting को turn off कर दीजिये |

वैसे जब कुच्छ भी फ्री में मिलता है तो ये सोचना जरुर चाहिए की इसकी वजह क्या है | और ऐसा ही कुच्छ फ्री hotspot पर भी लागु होता है की ये फ्री फैसिलिटी क्यूँ दी जाती है | आइए आपको बताते है |

बिज़नस को इस फ्री wifi या पब्लिक wifi ऑफर देने से ज्यादा कस्टमर मिलने लगते है और सेल्स भी बढ़ जाती है और wifi ऑफर करने से government को ये profit होता जिस सिटी में फ्री wifi provide किया जाता है उस सिटी में Economic Dvelopment, Job Creations and Revenue Generation Increase होने के chances बढ़ जाते है |

Public Hotspot Wi-Fi के नुकसान क्या है ?

  • इसमें कोई relability नहीं होती है जो एक major security issue होता है |
  • Low speed भी होती है और maintenance issue भी होते है |
  • hotspot प्रोवाइडर ये जानते है की उनके clintes को quick सर्विस चाहिए होती हो और वो इसके लिए security Sacrifices भी कर सकते है | इस लिए पब्लिक wifi यूज़ करते टाइम ऐसी कोई भी वेबसाइट ओपन नहीं करें जिसे आप सिक्योर रखना चाहते है  जैसे बैंकिंग साइट्स |
  • इसी तरह पोर्टेबल hotspot freeloaders के वजह से security issue हो सकता है तो सिक्योर पोर्टेबल device का इस्तेमाल करना चाहिए जिसमे data encryption के साथ प्रॉपर security मिल सके और हैकर के लिए उस तक पहुँच पाना आसान नहीं हो |

निषकर्ष:-

तो दोस्तों आज हम इस आर्टिकल में hotspot के बारे में पूरी जानकारी देने की कोशिश की है | अब जान गये होंगे की hotspot क्या है, और यह काम कैसे करता है और भी कई सारी जानकरियां |

मुझे उम्मीद है हमारा लिखा हुआ आर्टिकल पसंद आया होगा | अगर इस आर्टिकल से जुड़ी कोई भी सवाल या सुझाव हो तो आप हमें कमेंट कर सकते है | हम आपके सवालों का जवाब जरुर देंगे धन्यवाद! आप हमें सोशल मीडिया साईट जैसे फेसबुक और फेमनेस्ट पर फॉलो कर सकते हैं|

लेखक :-

मेरा नाम सोहेल अख्तर है | मैं एक web developer और ब्लॉगर के तौर पर काम करता हूँ | मैं एक Computer Science का स्टूडेंट हूँ | हमें किसी भी topic के बारे में अपने भाषा में लिखने में मज़ा आता है | हमारा एक ब्लोगिंग वेबसाइट है जहाँ हम लिखते है https://gyantechno.com

Leave a Comment