गाय के गोबर के उपयोग

गाय के गोबर के उपयोग और फायदे क्या हैं Cow Dung Benefits In Hindi

दोस्तों क्या आप जानते हैं की गाय के गोबर के क्या फायदे हैं और क्यों ये हमेशा से भारतीय परंपरा का एक अभिन्न अंग रहा है। आज इस लेख में आप जानेंगे की गाय का गोबर किन कारणों से सदियों से उपयोग होता रहा है और इसके उपयोग से होने वाले लाभ कौन कौन से हैं। निश्चित रूप से इस लेख को पढ़ने के बाद आप गाय के गोबर ( cow dung ) के सदुपयोग के बारे में अच्छी तरह जान और समझ जाएंगे।

आज के इस विज्ञानं के युग में सब कुछ संभव है और आज आप घर बैठे online income कर सकते हैं बस आपके पास एक unique idea होना चाहिए। आज अगर आप शहर में रहते हैं तो आपको गाय का गोबर भी खरीदना पड़ता है जिसका उपयोग हवन, शुद्धि और पूजा पाठ के लिए किया जाता है।

दोस्तों हम सब ये जानते हैं की भारत की अधिकतर आबादी गांव में बसती है और गांव में अधिकतर घरों में गाय पालने की परंपरा है। गाय से दूध प्राप्त होता है और जिससे दही, घी और दूध निर्मित पौष्टिक खाद्य पदार्थ बनाये जाते हैं। गाँव के ज़्यादातर लोग कोई न कोई जानवर जैसे गाय, बकरी, गधा या भैस ज़रूर पालते हैं क्यूंकि ये उनकी दिनचर्या का हिस्सा होते हैं और इन जानवरों से उन्हें दूध और अन्य पदार्थ प्राप्त होते हैं जो जीवनयापन में बहुत सहायक होते हैं।

भारतीय संस्कृति में गाय को पूजनीय माना जाता है किन्तु इसके कुछ वैज्ञानिक कारण भी हैं, आइये जानते हैं वो कारण जिनकी वजह से गाय को सभी जानवरों में एक विशेष दर्जा प्राप्त है।

  • गाय का दूध सर्वोपरि माना जाता है और ऐसी मान्यता है की गाय का दूध पीने से मनुष्य बलवान और बुद्धिमान बनता है। अगर आप एक स्वस्थ शरीर और बुद्धिमान मन चाहते हैं तो आपको नियमित रूप से गाय का दूध ज़रूर पीना चाहिए।
  • गाय का गोबर आपको मोबाइल से होने वाले रेडिएशन से बचाता है। इसके लिए आपको आपके मोबाइल कवर पर पीछे की तरफ इसे चिपकाना पड़ेगा सात दिनों के बाद इस परत को हटा कर दूसरी परत चढ़ा देनी चाहिए।
  • गाय का गोबर और गोमूत्र अगर दवा के रूप में शोधित करके लिया जाए तो ये प्रसव के दौरान काफी अच्छा होता है और इससे दर्दरहित प्रसव संभव है।
  • गाय का गोबर और गोमूत्र कई आयुर्वेदिक दवाइयां बनाने के काम आता है और इसके सेवन से कई असाध्य रोग ठीक हो जाते हैं। भारतीय आयुर्वेद शाश्त्र में गाय का गोबर और गोमूत्र को विशेष दर्जा प्राप्त है इसका उपयोग सैकड़ो दवाइयों में किया जाता है और इसलिये कई आयुर्वेदिक संस्थान के पास अपनी स्वयं की गौशाला भी होती है।
  • गाय का गोबर सूखने के बाद चूल्हा जलाने के काम आता है जिससे गाँव के लोग स्वादिष्ट भोजन पका लेते हैं। भारत के सुदूर गावों में जहाँ बिजली और आधुनिक सुविधाओं का अभाव है वहां ये खाना बनाने का सबसे ज़्यादा उपयोगी तरीका है। गाय का गोबर ठीक उसी प्रकार जलता है जैसे कोयला जलता है और इस पर पकाया हुआ खाना भी बहुत स्वादिस्ट होता है।
  • गाय के गोबर के उपले जलाने से मच्छर और किट पतंगे भाग जाते हैं जिससे गाँव में लोग मच्छरों से होने वाले बीमारियों से स्वयं को बचा लेते हैं। ये तरीका गाँव में पशुओं को मच्छरों से बचाने के लिए भी उपयोग किया जाता है बस थोड़े से उपले जला दीजिये धुंआ हुआ और मच्छर गायब।

अगर आप के पास गोबर है तो इससे आप पैसे भी कमा सकते हैं जी हाँ अभी Desi Baazar पर जाएँ और ऑनलाइन गोबर बेचने का काम शुरू करें। आपके द्वारा बेचा गया गोबर पूजा पाठ और हवन के काम में आएगा और desi baazar के माध्यम से उन शहरों तक पहुंच जाएगा जहाँ इसकी ज़रुरत है। इसके अलावा आप अन्य online shopping sites जैसे amazon aur flipcart पर भी गाय का गोबर और गोमूत्र बेच सकते hain.

तो ये थे कुछ गाय के गोबर के फायदे, उम्मीद है आपको हमारा ये लेख अच्छा लगा होगा। आपकी राय हमें कमेंट में ज़रूर बताएं, धन्यवाद। नियमित रूप से हमारे लेख पढ़ने के लिए हमारा newsletter subscribe ज़रूर करें।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top